Header Ads

  • Latest News

    List of Big MLM Scam भारत के १० सबसे बड़े लोकप्रिय MLM स्कैम


    List of BIG MLM Scam and TOP 1o Fraud mlm companies 

    भारत के १० सबसे बड़े MLM स्कैम 



    Speak Asia 3000 Crores  Scam 
    Singapore Based Company Speak Asia Biggest mlm scam and frauds in India Approx Rs.3000 crores . 
    As company offer "Do survey and earn money" invest Rs.10000 and earn Rs.4000 per month by doing just daily  simple survey .



    Stock Guru India  1000 crores  



    स्टॉक गुरु इंडिया  : 500 करोड़ रु.का घोटाला करने वाले  स्टॉक गुरु इंडिया  के मालिक लोकेश्वर देव उर्फ़ उल्लास खरे व उसकी पत्नी प्रियका उर्फ़ रक्षा  खरे को दिल्ली  पुलिस  ने महाराष्ट्र के रत्नागिरी में  12-नवम्बर को गिरफ्तार कर लिया है ! पुलिस ने बताया कि लोकेश्वर देव और प्रियंका देव के असली नाम उल्लास और रक्षा हैं। दोनों ने फर्जी नाम से पश्चिमी दिल्ली के रामा रोड पर कंपनी खोली और लोगों को चूना लगाने के लिए वचन पत्र तक दिए। अकेले दिल्ली से ही स्टॉक गुरू ने करोड़ों बनाए। इसके अलावा देश भर के इंवेस्टर्स से लोकेश्वर ने मोटी रकम ऐंठी और उसकी पत्नि प्रियंका उर्फ रक्षा ने उसका पूरा साथ


    GOLD Sukh

    गोल्ड सुख : डेढ़ लाख लोगों से 300 करोड़ रु. की ठगी। कंपनी के पदाधिकारियों को पुलिस थाईलैंड से पकड़कर लाई। डायरेक्टर सहित 22 लोग गिरफ्तार। सोना बुक कराने का झांसा देकर देकर करवाया था निवेश। कंपनी के अकाउंट में पुलिस को केवल 7 लाख रु. और तिजोरी में सोने की 16 चूड़ियां मिलीं। प्रदेश के 12 12 जिलों में कंपनी के कार्यालय सील किए। गत दिनों कंपनी के एक डायरेक्टर नरेन्द्र सिंह की जेल में मौत।



     Suwarn Yug

    स्वर्ण युग : महेश नगर स्थित श्रीगोपाल नगर में स्वर्ण युग ट्रेड इंडिया प्रा.लि. के नाम से कार्यालय। निवेशकों को सोना बुक कराने के नाम पर मोटे मुनाफे का झांसा। डायरेक्टर कमलेश पारीक, पवन पारीक व नौ कर्मचारी गिरफ्तार। कंपनी के 1500 से अधिक निवेशक। पुलिस ने 24 नवंम्बर 2011 को लगाया कंपनी पर ताला। बैंक खातों में 70 लाख रुपए।



    Aditya Cosmos

    आदित्या कॉसमॉस : चित्रकूट में कंपनी का कार्यालय। निवेशकों को मामूली निवेश पर सोना बुक करने और मोटे मुनाफे का झांसा। दो डायरेक्टरों को गोल्डसुख मामले में गिरफ्तार किया। तब निवेशकों में विश्वास जमाने के लिए एक अन्य डायरेक्टर गुरतेज सिंह ने निवेशकों को सोना और चेक बांटे। केस दर्ज होने पर वैशाली नगर पुलिस ने 3 दिसंबर 2011 को गुरतेज को गिरफ्तार किया। तिजोरी में मिला त्न2 करोड़ का सोना।



    Priya Parivar

    प्रिया परिवार: विद्याधर नगर सेंट्रल स्पाइन में कार्यालय। कम्प्यूटर एजूकेशन के नाम पर निवेश। चेयरमैन तेजपाल सिंह नूनियां व डायरेक्टर सुरेन्द्र नूनियां तथा महेश नूनियां को सीकर पुलिस ने 11 दिसंबर 2011 को गिरफ्तार किया, दफ्तर सील। प्रदेशभर में कंपनी के 28 बैंक खाते सीज किए।



    पीयर्स : पारीक कॉलेज रोड पर दफ्तर। मुख्य कार्यालय कानपुर में। जयपुर में 4000 सदस्य। त्न40 करोड़ की ठगी। जयपुर हैड अजय मिश्रा तथा एरिया मैनेजर अरुण डांगी गिरफ्तार। किश्तों में जमीन देने का झांसा देकर ठगा।

    अवनी ट्रेड : अपेक्स मॉल में दफ्तर। डायरेक्टर पिता-पुत्र शम्मी घई तथा कुणाल घई 30 नवंबर 2011 को गिरफ्तार। 22000 सदस्य बनाए। त्न14 करोड़ का निवेश। लाभांश नहीं दिया।



    धनश्री हेल्थ केयर : टाइम स्क्वायर मॉल में दफ्तर। डायरेक्टर साजू एम चाको, पत्नी अन्नू जॉन 12 दिसंबर को गिरफ्तार। 13000 सदस्यों को ठगा।


    ईव मिरेकल : श्यामनगर में कार्यालय। यहीं पर ईव मिरेकल ज्वैलर्स प्रा.लि. के नाम से शोरूम। कम लागत पर लाखों का सोना बुक करने के नाम पर 1.19 सदस्य बनाए। 141 करोड़ रु. का निवेश किया। सीईओ शिवराज शर्मा 28 नवंम्बर 2011 को गिरफ्तार। चार बैंक अकाउंट में 4 करोड़ रु. और दो बैंक लॉकरों में आठ किलो सोने के आभूषण मिले।




    संकल्प: मालवीय नगर गिरधर मार्ग पर दफ्तर। डायरेक्टर हरीश शर्मा को जमीनी धोखाधड़ी के मामले में जेडीए थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया। किश्तों में प्लॉट तथा फार्म हाउस देने के नाम पर 600 लोगों से ठगी। चाकसू के पास जमीन का झांसा। रजिस्ट्री कंपनी के नाम से थी ही नहीं। सदस्यों को रिटेल स्टोर से आलू-प्याज व अन्य सामान देने का झांसा भी दिया। सदस्यों को कंपनी के लोगों ने चेक बांटे, कई चेक बाउंस।


    स्मार्ट बिजनेस : सांगानेर के कल्याण नगर में कार्यालय। सोने में निवेश के नाम पर ठगी। 1000 सदस्य बनाए। अप्रैल 2009 में केके दुसाद ने कंपनी खोली। सात लुभावनी स्कीम में निवेशकों को मोटा मुनाफा देने का झांसा दिया। पुलिस ने दुसाद को 4 दिसंम्बर 2011 को गिरफ्तार किया।


    पीएसीएल: संसारचंद्र रोड पर विंडसर प्लाजा में कार्यालय। सस्ती जमीन देने का प्रलोभन देकर लोगों को निवेश का लालच। जयपुर हैड राकेश चित्तौड़ा गिरफ्तार। राज्यभर में 277 कार्यालय। देशभर में 25 लाख से ज्यादा निवेशक। राज्य से प्रतिमाह औसतन 50 से 60 करोड़ रु. का कलेक्शन।


    मेरी गोल्ड प्लस : सेंट्रल स्पाइन में दफ्तर। डायरेक्टर चंद्रशेखर अग्रवाल, रामावतार व कविता 12 दिसंम्बर 2011 को गिरफ्तार। 1700 सदस्य, 70 लाख रु. का निवेश।



    TULIP GLOBAL PVT LTD. JAIPUR RAJASTHAN



    SOCIAL TRADE :- WWW.SOCIALTRADE.BIZ   




    Source :- www.mlmnewspaper.com

    Post Free ads   visit    www.mlmadz.com     


    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad